Moral of the story is कि आपकी जिंदगी में कितनी भी परेशानियां और मुश्किलात क्यों ना हो? आपकी जिंदगी में भले ही कितनी भी कमियां क्यों ना हो, परंतु आप किसी की उम्मीद हमेशा बन सकते हैं , दूसरों की जिंदगी में उम्मीद के नये रंग भर सकते हैं, सूर्य की चमक की तरह ऐसे चमकदार रंग जिन से दूसरे की दुनिया पूरी तरह रोशन हो जाए क्योंकि अपने लिए तो सभी जीते हैं लेकिन जो दूसरों के लिए जीए वही तो इंसान है……..

Add comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *